सोफा-गीजर से मिले 3.5 करोड़

सीबीआइ ने सोफा, जूतों के रैक, पानी के टैंक, गीजरसे साढ़े तीन करोड़ रुपये की नई करेंसी बरामद की।

जान्यूने, रांची/कोलकाता। फर्जी कंपनी बनाकर हवाला के जरिए करोड़ों रुपये ही हेराफेरी के मामले में सीबीआइ (केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो) ने बुधवार को रांची के प्रधान आयकर आयुक्त तापस दत्ता के अलावा इनके ही विभाग के तीन अन्य अफसरों, कोलकाता के व्यवसायियों और चार्टड एकाउंटेंट के 24 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की। इनमें रांची के पांच, जमशेदपुर के एक और कोलकाता के 18 ठिकाने शामिल हैं। इनमें दत्ता के रांची आयकर विभाग स्थित दफ्तर और यहीं पर आठवें तल्ले पर स्थित उनके गेस्ट हाउस भी शामिल हैं।

दत्ता के कोलकाता के साल्टलेक, एचबी 12/1 ब्लॉक स्थित घर से सीबीआइ ने पांच किलो सोना और साढ़े तीन करोड़ रुपये बरामद किए हैं। बरामद राशि 2000 रुपये की नई करेंसी में है। इनके अलावा कई अन्य दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। इस मामले में एक दिन पूर्व दिल्ली सीबीआइ ने दत्ता सहित 10 लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी। छापा में दिल्ली, कोलकाता और रांची सीबीआइ के अफसर शामिल थे। छापेमारी के दौरान रांची स्थित आयकर गेस्ट हाउस में प्रधान आयकर आयुक्त तापस दत्ता सहित अन्य अफसरों से सीबीआइ के अधिकारी लगातार पूछताछ कर रहे थे।

इस बीच, तापस की गिरफ्तारी की भी चर्चा होती रही, हालांकि इसकी पुष्टि किसी सीबीआइ अधिकारी ने नहीं की है। दत्ता से रांची के आयकर आफिस स्थित गेस्ट हाउस में पूछताछ जारी है। दिल्ली सीबीआइ मुख्यालय से हरी झंडी मिलने के बाद ही प्रधान आयकर आयुक्त को गिरफ्तार किया जाएगा ऐसी बात कुछ अधिकारी कह रहे हैं।

शेयर करें

कोई जवाब दें