प्रियंका गांधी को स्टीमर से चुनाव प्रचार करने की मिली अनुमति, ये रखी गई शर्त

कांग्रेस की महासचिव बनने के बाद प्रियंका गांधी ने लोकसभा चुनाव जीतने के लिए पूरी शक्ति लगा दी है. पद संभालते ही वे एक्शन मोड में आ गईं थी. सबसे पहले वह कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय में पहुंची थीं.

पूर्वी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के चुनाव प्रचार की कमान संभाल रहीं पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी को प्रयागराज के जिला मजिस्ट्रेट और जिला निर्वाचन अधिकारी ने स्टीमर से चुनाव प्रचार करने की अनुमति दे दी है. जानकारी के मुताबिक, डीएम ने प्रियंका गांधी के काफिले में दो लाउडस्पीकर और दस वाहनों को शामिल करने की अनुमति दी है. वहीं सभी कार्यक्रमों में सुरक्षा व्यवस्था और सुरक्षा मानकों के अनुपालन का जिम्मा एसपीजी को सौंपा है. बताया जा रहा है कि कुल 25 शर्तों के साथ जिला मजिस्ट्रेट ने प्रियंका गांधी को चुनाव प्रचार करने की परमिशन दी है.

कांग्रेस की महासचिव बनने के बाद प्रियंका गांधी ने लोकसभा चुनाव जीतने के लिए पूरी शक्ति लगा दी है. पद संभालते ही वे एक्शन मोड में आ गईं थी. सबसे पहले वह कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय में पहुंची थीं. कांग्रेस पार्टी के कार्यालय में कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से उनका स्वागत किया था. कहा जा रहा है कि प्रियंका के राजनीति में आने से कांग्रेस पार्टी उत्‍तर प्रदेश में अपना खोया आधार फिर से हासिल कर सकती हैं.

इससे पहले शुक्रवार को ही प्रियंका गांधी की ‘गंगा यात्रा’ का शेड्यूल जारी किया गया था. शेड्यूल के तहत प्रियंका गांधी 18 मार्च से लेकर 20 मार्च तक उत्तर प्रदेश के कई स्थानों पर चुनाव प्रचार करने वाली थीं. जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस महासचिव 18 मार्च को प्रयागराज में कई कार्यक्रम में शिरकत करती. सबसे पहले वे संगम का दर्शन करने वाली थीं फिर बाद वह कार से छतना के लिए रवाना होंती.

बता दें कि देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में भी सात चरणों में वोटिंग होनी है. पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल को, दूसरे चरण के लिए 18 अप्रैल, तीसरे चरण के लिए 23 अप्रैल, चौथे चरण के लिए 29 अप्रैल, पांचवें चरण के लिए 6 मई, छठे चरण के लिए 12 मई और सातवें चरण के लिए वोटिंग 19 मई को होगी. नतीजे 23 मई को आएंगे.

शेयर करें

कोई जवाब दें