विधानसभा के विशेष सत्र में बतौर सपा विधायक पहुंचे शिवपाल यादव, योगी को बताया ईमानदार CM

शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने सदन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि प्रदेश का नेतृत्व ईमानदार मुख्यमंत्री के हाथों में है.

लखनऊ. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 150वीं जयंती के मौके पर 36 घंटे के लिए बुलाए गए विधानसभा (UP Assembly) के विशेष सत्र (Special Session) में गुरुवार को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) प्रमुख शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) सदन की कार्यवाही में शामिल हुए. वे बतौर सपा एमएलए के तौर पर पहुंचे थे. बता दें समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने सरकार दवारा बुलाये गए इस विशेष सत्र का बहिष्कार किया है. कुछ ही दिन पूर्व शिवपाल की सदस्यता रद्द करने को लेकर नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी (Ramgovind Chaudhary)की तरफ से विधानसभा अध्यक्ष को पत्र भी लिखा गया था.

प्रदेश का नेतृत्व ईमानदार मुख्यमंत्री के हाथों में

सदन में शिवपाल यादव ने सरकार और मुख्यमंत्री की भूरी-भूरी प्रशंसा भी की. उन्होंने कहा कि सरकार ने कुछ अच्छे काम किये हैं, लेकिन इसके साथ ही ख़राब कानून-व्यवस्था का भी जिक्र होना चाहिए. शिवपाल यादव ने सदन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि प्रदेश का नेतृत्व ईमानदार मुख्यमंत्री के हाथों में है. मुख्यमंत्री मेहनती हैं. लेकिन पुलिस संवेदनशील नहीं है, अभी पुलिस को कसने की ज़रूरत है. शिवपाल ने कहा मेरे विधानसभा क्षेत्र में पीड़ितों और गरीबों के मुकदमे नहीं लिखे गए. नहरों में पानी नहीं पहुंचा. किसान बेहद परेशान है. किसानों पर मनमाने तरीके से जुर्माना लगाया गया. शिवपाल ने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट एक अच्छा कार्यक्रम था, लेकिन जितना सोचा गया उतना निवेश नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि प्रदेश में 22 करोड़ वृक्षारोपण हुआ, जिसकी मैं सराहना करता हूं.

गरीबों को गैस सिलेंडर पर दी जाये सब्सिडी

शिवपाल यादव ने आगे कहा महिलाओं को गैस सिलेंडर दिया गया, यह एक अच्छी योजना है, लेकिन मेरा सुझाव है कि गैस सिलेंडर के लिए गरीबों को सब्सिडी दी जाए. आवास योजना में उत्तर प्रदेश ने प्रथम स्थान प्राप्त किया है, यह अच्छी बात है, लेकिन अभी भी बहुत लोगों को आवास की जरूरत है. उस पर सरकार ध्यान दे.

बसपा एमएलसी ने भी की बगावत

उधर जौनपुर से बसपा एमएलसी ब्रजेश सिंह ‘प्रिंसू’ ने भी पार्टी से बगावत करते हुए बसपा के वाकआउट के बावजूद लगातार सदन की कार्यवाही में शामिलहैं. एमएलसी प्रिंसू ने कहा कि गांधी जी के नाम पर सत्र ऐतिहासिक काम है. उन्होंने कहा कि पार्टी द्वारा वाकआउट का कोई स्पष्ट निर्देश नही था. हालांकि उन्होंने बीजेपी में शामिल होने की संभावनाओं से भी इनकार नहीं किया.

कल अदिति सिंह व सपा, बसपा के विधायक भी हुए थे शामिल 

कांग्रेस, सपा व बसपा ने बहिष्कार किया था. लेकिन बावजूद इसके कांग्रेस की अदिति सिंह, बसपा के अनिल सिंह और सपा के  नितिन अग्रवाल पार्टी लाइन से अलग होकर विशेष सत्र में शामिल हुए. जिसके बाद से कयासों का बाजार गर्म हैं. खासकर अदिति सिंह को लेकर चर्चा काफी तेज है, क्योंकि बुधवार को ही कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी का लखनऊ में पैदल मार्च था, लेकिन वह उसमें शामिल न होकर देर शाम विधानसभा के विशेष सत्र में पहुंच गयी. इतना ही नहीं, उन्होंने सत्र की चर्चा में हिस्सा भी लिया. अब बीजेपी का कहना है कि अगर अदिति बीजेपी के नीतियों से प्रभावित होकर पार्टी में आती हैं तो उनका स्वागत है.

शेयर करें

कोई जवाब दें