फोन पर अधिकारी से धमकी भरे लहजे में बोले योगी के मंत्री- मालूम है मैं कौन बोल रहा हूं?

मामला बहराइच के नानपारा बाइपास का है. यहां पर पिछले तीन दिन से बिजली नहीं आई थी. ऐसे में लोग बशीरगंज पावर हाउस (Bashirganj Power House) पर चक्का जाम कर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. मंत्री उपेंद्र तिवारी इस वजह से जाम में फंस गए थे.

बहराइच. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार के मंत्री उपेन्द्र तिवारी (Upendra Tiwari) ने सार्वजनिक तौर पर बिजली विभाग (Electricity Department) के अधिकारी को फोन पर ही कड़ी फटकार लगाई. खास बात यह है कि उपेन्द्र तिवारी ने जनता के सामने बीच सड़क पर ही फोन करते हुए बिजली अधिकारी को खूब खरी-खोटी सुनाई. इस दौरान उन्होंने अधिकारी से कहा, ‘तुम्हारा दिमाग होश में है या फिर बेहोश होकर बात कर रहे हो. क्या तुम्‍हें मालूम है कि तुम किससे बात कर रहे हो?’ मंत्री ने धमकी भरे लहजे में अधिकारी से कहा कि 24 घंटे के अंदर शहर और 48 घंटे के अंदर देहात क्षेत्र में बिजली की व्यवस्था कराओ.

मामला बहराइच के नानपारा बाइपास का है. यहां पर पिछले तीन दिन से बिजली नहीं आई थी. ऐसे में लोग बशीरगंज पावर हाउस पर चक्का जाम कर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. वहीं, मंत्री उपेन्द्र तिवारी विधानसभा बलहा में जनकल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा कर लौट रहे थे, तभी वह चक्का जाम में फंस गए. इस दौरान लोगों ने बिजली न आने की शिकायत की. इसके बाद उपेन्द्र तिवारी फोन पर ही बिजली अधिकारी को धमकी भरे लहजे में डांटने लगे. उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारी से कहा, ‘क्या तुम्हें मालूम है कि तुम किससे बात कर रहे हो? मैं उपेन्द्र तिवारी बोल रहा हूं.’

पहले दे चुके हैं विवादित बयान
बता दें कि उपेन्द्र तिवारी ने कुछ महीने पहले मीडिया से बात करते हुए कहा था, ‘रेप का नेचर होता है, अब जैसे अगर कोई नाबालिग लड़की है, उसके साथ रेप हुआ है तो उसको तो हम रेप मानेंगे, लेकिन कहीं पर यह भी सुनने में आता है कि कोई विवाहित महिला है, उम्र 30-35 साल है…उसका अलग नेचर है.’

शेयर करें

कोई जवाब दें